Available languages:
अंतरराष्ट्रीय शांतिरक्षक दिवस पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव का वीडियो संदेश
17 May 2019 -  आज हम उन दस लाख से ज़्यादा पुरुषों और महिलाओं को सम्मान देते हैं जिन्होंने 1948 में पहली बार शांति मिशन के शुरू होने के बाद से संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षकों के रूप में अपनी सेवाएं दी हैं.
हम उन 3,800 शांतिरक्षकों को याद करते हैं जिन्होंने अपने जीवन का बलिदान कर दिया.
और हम उन 1 लाख सिविल, पुलिस और सैन्य शांतिरक्षकों के प्रति गहरा आभार व्यक्त करते हैं जो आज दुनिया भर में तैनात है – उन देशों को भी जो इन साहसी और समर्पित महिलाओं और पुरुषों का योगदान देते हैं.
सुरक्षा परिषद ने आम नागरिकों की सुरक्षा के लिए पहली बार एक शांतिरक्षा मिशन को जब अधिकार दिए, इस वर्ष संयुक्त राष्ट्र उसके बीस साल पूरे कर रहा है.
शांतिरक्षक बड़े जोखिम उठाते हुए हर दिन पुरुषों, महिलाओं और बच्चों की हिंसा से रक्षा करते हैं.
इसी भावना के साथ, इस अंतरराष्ट्रीय दिवस पर, यह पहली बार है जब असाधारण साहस के लिए कैप्टन बाये डियाने मेडल दिया जा रहा है.
हम मलावी के प्राइवेट चांसी चिटेटे को श्रृद्धांजलि देते हैं जो कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य में सेवारत थे और एक साथी शांतिरक्षक की जान बचाते समय उन्होंने अपने प्राण न्यौछावर कर दिए.
वैश्विक शांति और सुरक्षा में संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षा एक अहम निवेश है.
लेकिन इसके लिए मज़बूत अंतरराष्ट्रीय संकल्प चाहिए.
इसीलिए हमने ‘एक्शन फ़ॉर पीसकीपिंग’ पहल शुरू की है जिसका उद्देश्य यूएन मिशनों को मज़बूत, सुरक्षित और भविष्य के लिए उपयुक्त बनाना है.
दुनिया भर में हिंसक संघर्षो में फंसे लाखों लोगों के लिए, शांति रक्षा एक आवश्यकता और आशा है. आइए, शांतिरक्षा को और प्रभावी बनाने के लिए हम मिलकर काम करें ताकि लोगों को सुरक्षा दी जा सके और शांति को बढ़ावा मिल सके.
धन्यवाद.