Available languages:
विश्व पर्यावरण दिवस पर महासचिव का वीडियो संदेश (2019)
5 Jun 2019 -  विश्व पर्यावरण दिवस दर्शाता है कि हम सब प्रकृति और हमारी पृथ्वी के स्वास्थ्य पर कितना निर्भर हैं.
हम जो पानी पीते हैं, भोजन करते हैं और सांस लेते समय हवा खींचते हैं, उनकी गुणवत्ता पर्यावरण के संरक्षण पर निर्भर करती है.
लेकिन पर्यावरण के सामने अभूतपूर्व जोखिम हैं जो मानवीय गतिविधियों के चलते पैदा हुए हैं.
दस लाख से ज़्यादा प्रजातियां विलुप्त होने का ख़तरा झेल रही हैं. महासागरों पर दबाव बढ़ रहा है.
वायु प्रदूषण से हर साल 70 लाख जानें जा रही हैं और बच्चों का सही विकास नहीं हो पा रहा है.
और जलवायु परिवर्तन अस्तित्व के लिए एक ख़तरा है.
दक्षिण प्रशांत क्षेत्र के देशों की यात्रा के दौरान मैंने वैश्विक जलवायु आपात स्थिति के गंभीर और बिगड़ते प्रभावों का प्रत्यक्ष रूप से अनुभव किया.
खोने के लिए हमारे पास समय नहीं है. यह हमारे जीवन की लड़ाई है.
हमें जीतना ही होगा. और हम यह कर सकते हैं. समाधान मौजूद हैं.
लोगों की बजाए प्रदूषण पर टैक्स लगाना होगा.
जीवाश्म ईंधनों को सब्सिडी बंद करनी होगी.
कोयला आधारित ऊर्जा संयंत्रों का निर्माण रोकना होगा.
हर जगह लोग कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.
विश्व पर्यावरण दिवस पर, आइए उनकी पुकार सुनें.