Available languages:
(Hindi) हमारी समझ के भीतर - Paris Agreement Explainer
20 Apr 2021 -  Aidan Gallagher, Goodwill Ambassador, UN Environment Programme कल्पना करें निकट भविष्य की! एडन गैलाघेर, सदभावना राजदूत, संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम - UNEP आप अपने घर से निकलें और हवा साफ़ एवं ताज़ा हो.
क्योंकि हमने वायु प्रदूषण में कटौती की और उन जंगलों और पारिस्थितिक तंत्रों को बहाल करने के लिये मिलकर काम किया, जो हमने पिछले दशकों और सदियों में खो दिए थे.
समुद्र फिर से स्वस्थ और जीवन से भरपूर हैं.
मिट्टी पुनर्जीवित हुई है, उर्वरता के साथ फूट रही है, और फ़सल की बड़ी पैदावार होती है, सभी के लिये.
और आप जैसे ही घर से निकलते हैं, आपको एक कार, ट्रेन या बस मिलती है, जो स्वच्छ, बिजली चालित है और यह आपको जहाँ चाहे, वहाँ ले जा सकती है.
आपके आस-पास की इमारतों की छतों का रंग हरा और जीवन्त है. सर्वजन, वैश्विक तापमान कम रखने के लिये, अपनी भूमिका बख़ूबी निभा रहे हैं.
Paris Climate Agreement तो क्या यह एक असम्भव कल्पना भर है? नहीं. बिलकुल नहीं. यह बिल्कुल सम्भव है. और हमारे पास वो रास्ता है, जो हमें वहाँ ले जाता है: पेरिस जलवायु समझौता.
और लगभग 200 देश पहले ही इस पर हस्ताक्षर कर चुके हैं.
1.50 हर पाँच साल में प्रत्येक राष्ट्र को रिपोर्ट करना होगा कि वे अपने कार्बन फुटप्रिण्ट को कैसे कम कर रहे हैं और वैश्विक तापमान वृद्धि, 1.5 डिग्री सैल्सियस से ऊपर नहीं जाने देने के लिये क्या कर रहे हैं.
इन राष्ट्रों को यह दिखाना होगा कि वे तूफ़ानों, सूखे, आगों और बाढ़ों की बढ़ती संख्या के ख़िलाफ़ सहनक्षमता कैसे बढ़ा रहे हैं और जीवन रक्षा व सम्पत्ति की रक्षा करने के लिये क्या कर रहे हैं.
पेरिस समझौते पर हस्ताक्षर करना क़ानूनी तौर पर बाध्यकारी है और सभी को इसका पालन करना पड़ता है – न तो चीन, भारत, रूस, अमेरिका जैसे सबसे बड़े देश, इससे बच सकते हैं और न ही छोटे द्वीप या दुनिया के बाक़ी हिस्से.
पेरिस समझौता, देशों को नैट शून्य कार्बन उत्सर्जन के लिये अपने स्वयं के रास्ते बनाने देता है.
यह राष्ट्रों, व्यवसायों और लोगों के ऊपर है कि वे यह करने के नए तरीक़े खोजें. ऊर्जा उत्पादन से लेकर परिवहन, विनिर्माण और खेती तक सभी के लिये. ये क़दम, बाक़ी सदी के लिये एक बड़ा आर्थिक उछाल लाने में सक्षम होंगे.
और यह पहले से ही हो रहा है: सौर पैनलों, इलैक्ट्रिक कारों और ऊर्जा कुशल उपकरणों जैसी हर चीज़ के लिये, नए बाज़ार हर जगह हरित कामकाज के अवसर पैदा कर रहे हैं.
यह मेरे लिये एक व्यक्तिगत मामला है.
मैं उस हवा में घुटना नहीं चाहता जिसमें मैं साँस लेता हूँ, या वनों को अनियन्त्रित रूप से जलते हुए नहीं देखना चाहता.
मैं ऐसी दुनिया नहीं चाहता जो सूखे से प्रभावित हो.
इसलिये, मेरे लिये और सभी के लिये, पेरिस समझौता आगे बढ़ने का मार्ग है. इसी से, हम जलवायु परिवर्तन के ख़तरे से दुनिया को मुक्त कर सकते हैं.

#ClimateAction
#GenerationRestoration
#ForNature

हम यह निश्चित रूप से कर सकते हैं – यह पूरी तरह से हमारी पकड़ में है. तो चलिये, साथ मिलकर काम करते हैं. और आप भी, जो बचा है उसे सहेज सकते हैं व जो क्षतिग्रस्त हो गया है उसे ठीक कर सकते सकते हैं. पेरिस समझौते के लिये अपना समर्थन प्रदर्शित करके इस सन्देश को फैलाने में मेरी मदद करें – धन्यवाद!
Open Video Category
21st Century Programme